तारा (Tara)

खुश होता था यह सोचकर,
तारा हूँ उसकी जिंदगी का,
पता ना था पर मुझे,
वह साथ सिर्फ अँधेरे तक का था!

-खुशी गोयल

———————————

Khush hota tha yah sochkar,
Tara hu uski zindagi ka,
Pata na tha par mujhe,
Vah saath sirf andhere tak ka tha!

-Khushi Goyal